Ticker

6/recent/ticker-posts

Navratri 2022 On 26th September: आने वाली है Navratri , जान लें ये जरूरी पूजा की सामग्री

Navratri 2022 kab hai


Navratri 2022 kab hai: इस बार 26 सितंबर, सोमवार को Navratri  की शुरुआत होगी। Navratri  के नौ दिनों तक देवी शक्ति के नौ अलग-अलग रूपों की आराधना की जाती है। हर व्यक्ति Navratri  के समय में माता को प्रसन्न करने के लिए पूरी श्रद्धा से पूजा करता है और अपने सभी दुखों को दूर करने की प्रार्थना करता है।  Navratri  अश्विन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से नवमी तक मनाई जाती है।


Navratri  का पर्व आने वाला है. 25 सितंबर को पितृ पक्ष का समापन होगा। अगले दिन 26 सितंबर, सोमवार को Navratri  की शुरुआत होगी। Navratri  के नौ दिनों तक देवी शक्ति के नौ अलग-अलग रूपों की आराधना की जाती है।


 एक वर्ष में चार Navratri  आती है। Navratri  अश्विन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से नवमी तक मनाई जाती है. शरद ऋतु में आगमन के कारण ही इसे शारदीय Navaratri  कहा जाता है. देशभर में यह त्योहार अलग-अलग ढंग से मनाते हैं, लेकिन एक चीज़ जो हर जगह सामान्य होती है वो है मां दुर्गा की पूजा. हर व्यक्ति Navratri  के समय में माता को प्रसन्न करने के लिए पूरी श्रद्धा से पूजा करता है और अपने सभी दुखों को दूर करने की प्रार्थना करता है। अब जानते हैं Navratri  मे पूजा के लिये कौनसी सामग्री की आवस्यकता होगी ।


सबसे पहले तो Navratri  के पहले दिन कलश स्थापना की जाती है। माना जाता है कि इस कलश में 33 कोटि देवी-देवता भी होते हैं। कलश स्थापना के लिए थोड़ी सी मिट्टी, मिट्टी का घड़ा, मिट्टी का ढक्कन, कलावा, नारियल, गंगाजल, लाल रंग का कपड़ा, एक मिट्टी का दीपक, अक्षत, हल्दी-तिलक, पान के पत्ते, जौ, फूल-माला, भोग के लिए फल और मिठाई, रंगोली के लिए आटा, मिट्टी की कटोरी के ऊपर रखने के लिए चावल या गेहूं।  मां दुर्गा की प्रतिमा या तस्वीर, चौकी, चौकी पर बिछाने के लिए लाल या पीला कपड़ा, लाला चुनरी, पाठ के लिए दुर्गासप्तशती पुस्तक, दुर्गा चालीसा।


और भी पढ़े:

नवरात्रि 2022: क्या हैं मां दुर्गा के नौ रूप और उन्हें चढ़ाया जाने वाला विशेष प्रसाद


माता रानी के लिये  श्रृंगार  की सामग्री


Navratri  के मौके पर नवदुर्गा का श्रृंगार किया जाता है । पूजा के लिए मां दुर्गा की तस्वीर या प्रतिमा ली जा सकती है।इसके साथ कुमकुम या बिंदी, सिंदूर, काजल, मेहंदी, गजरा, लाल रंग का जोड़ा, मांग टीका, नथ, कान के झुमके, मंगल सूत्र, बाजूबंद, चूड़ियां, कमरबंद, बिछुआ, पायल  आदि ।


Navratri  की तिथि (navratri 2022 date)


प्रतिपदा (मां शैलपुत्री): 26 सितम्बर 2022

द्वितीया (मां ब्रह्मचारिणी): 27 सितम्बर 2022

तृतीया (मां चंद्रघंटा): 28 सितम्बर 2022

चतुर्थी (मां कुष्मांडा): 29 सितम्बर 2022

पंचमी (मां स्कंदमाता): 30 सितम्बर 2022

षष्ठी (मां कात्यायनी): 01 अक्टूबर 2022

सप्तमी (मां कालरात्रि): 02 अक्टूबर 2022

अष्टमी (मां महागौरी): 03 अक्टूबर 2022

नवमी (मां सिद्धिदात्री): 04 अक्टूबर 2022

दशमी (मां दुर्गा प्रतिमा विसर्जन): 5 अक्टूबर 2022

Post a Comment

0 Comments